General Instructions for Road Safety Awareness

ट्रान्सपोर्ट डिपार्टमैंट पैन्शनर्स सोसाइटी फॉर रोड सेफ्टी अवेयरनैस

सडक पर सुरक्षित रहने के लिए कृपया ध्यान रखें कि …………………..

1. चौराहों पर हरी बत्ती होने के बाद ही अपने वाहन को सडक पर बनी स्टाप लाइन से आगे बढाऐं।

2. पीली बत्ती हो जाए और आपकी वाहन स्टाप लाइन के पीछे हो तो आप रूके रहें एवं वापस हरी बत्ती होने का इन्तजार करें। पीली बत्ती से लाल बत्ती होने के बीच का समय उन वाहनों के लिए है जो स्टाप लाइन पार कर चुकी हैं एवं चौराहे के दूसरे किनारे तक नहीं पहुॅंची है।

3. चौराहों पर गाडी की गति तेज नहीं करें, वाहन सामान्य गति से चलाऐं एवं चौराहों पर ओवरटेक नहीं करें।

4. चोराहों पर या तिराहों पर जहॉं ट्रेफिक लाइट नहीं हों, वहॉं चोराहे के किनारे आकर वाहन को रोकें, दोनो ओर ध्यान से देखने के बाद सुरक्षित महसूस करने पर ही वाहन आगे बढाऐं।

5. हैल्मैट का प्रयोग अवष्य करें। ध्यान रहे हैल्मैट का चिनस्ट्रैप अवष्य बॉंधें। किसी भी दुर्धटना के समय हैल्मैट आपके सिर को चोट लगने से बचाता है, सिर सुरक्षित तो आप सुरक्षित।

6. पैदल जाने वालों को पहले सडक पार करने दें। पैदल चलने वाले फुटपाथ पर ही चलें।

7. सडक पर यदि फुटपाथ नहीं हो, तो सडक पर दाईं ओर चलने की कोषीष करें । इससे आपको दोहरी सुरक्षा मिलेगी।

एक तो सामने से आने वाला वाहन आपका ध्यान रखेगा, दूसरा यदि वह आपका ध्यान रखने से चूक जाए तो आगे से आने वाले वाहन पर आपका भी ध्यान रहेगा एवं आप किसी भी अनहोनी से अपने आप को बचा सकेंगे।

8. साइकिल आदि कम गति पर चलने वाले वाहन सडक के बिलकुल बायें भाग पर ही चलें दाहिना भाग तेज गति वाले वाहनों के लिए छोड दें।

9. ओवरटेक सदा ही आगे चलने वाली वाहन के दॉंयी ओर से करें। जहॉं सडक पर पीली लाइन हो या दोहरी लाइन हो वहॉं ओवरटेक नहीं करें। दोहरी लाइन डिवाइडर की सूचक है, इसे डिवाइडर ही माना जाए।

10.लेन बदलने, ओवरटेक करने या किसी भी ओर मुडने से पहले लाइट द्वारा या हाथ द्वारा उचित इषारा करें। इषारा करने के बाद इतना समय दें कि पीछे से आने वाली वाहन को अपनी गति नियंत्रित करने का उचित समय मिल जाए एवं वह आपको व स्वयं को सुरक्षित रख सके।

11. सीट बैल्ट को अवष्य बॉंधें। किसी भी दुर्घटना के समय या अचानक ब्रैक लगाने पर यह आपके सिर व छाती को आगे विंडस्क्रीन या स्टीयरिंग आदि से टकराने से बचाती है एवं आप सुरक्षित रहते हैं।

12. एम्बुलैन्स एवं आग बुझाने वाले वाहन इमरजैन्सी में सहायता करने वाले वाहन हैं, यदि ये हूटर या लगातार घंटी बजाते हुए आ रहे हां तो उन्हे जाने हेतु तुरन्त रास्ता दें। यह किसी जान-माल की रक्षा हेतु जा रहे होते हैं।

13.बिना ड्राइविंग लाइसैन्स प्राप्त किए कोई सा भी मोटर वाहन न चलाऐं। मोटर वाहन चलाने के लिए वैध ड्राइविंग लाइसैन्स होना आवश्यक है।

14. वाहन चलाते समय मोबाइल फोन एवं ईयर फोन का स्तेमाल नहीं करें, इनके उपयोग से दुर्घटना की संभावनाऐं बढ जाती हैं।

|| सुरक्षा मात्र एक नारा नहीं है, इसे जीवन जीने का तरीका बनाऐं ||